Best Tourist place अलची मठ

रिनचेन ज़ंगपो द्वारा निर्मित सबसे बड़ा गोम्पा, जो तिब्बती में संस्कृत बौद्ध ग्रंथों का अनुवादक है, अलची मठ इस क्षेत्र के सबसे प्रसिद्ध स्थलों में से है।

 विभिन्न मंदिरों और मंदिरों में पर्यटक अपने सम्मान का भुगतान कर सकते हैं, जैसे प्रमुख बुद्ध वैरोचना लखंग, लोटसवा लखंग, जम्यांग लखांग (मंजुश्री मंदिर) और सुत्सग लखांग। मुख्य प्रतिमा वैरोचन बुद्ध की है, हालांकि, भगवान बुद्ध को दर्शाने वाली अन्य छोटी मूर्तियाँ हैं। 

इस मठ का एक अनोखा पहलू यह है कि यहाँ की पेंटिंग थोंग्का शैली में नहीं हैं। बल्कि, वे एक भारतीय शैली की कला पर गर्व करते हैं। इस मठ का निर्माण करने के लिए, रिनचेन ज़ंगपो ने कहा कि कश्मीर घाटी से चित्रकारों, नक्काशी करने वालों और मूर्तियों को लाया गया है। शहर के बाहरी इलाके में स्थित मठ के बारे में कहा जाता है कि इसका निर्माण लगभग 1000 ईस्वी पूर्व में हुआ था।

अलची गोम्पा
विवरण‘अलची गोम्पा’ या अलची मठ जम्मू और कश्मीर राज्य के लेह के पश्चिम में 65 किमी की दूरी पर स्थित है।
राज्यजम्मू-कश्मीर
ज़िलालेह
मुर्तियाँभगवान बुद्ध
अन्य जानकारीअलची मठ में आभूषणों से सुसज्जित बीस फीट ऊंची एक आकर्षक मूर्ति भी है।
अद्यतन‎12:10, 19 नवम्बर 2016 (IST)

अलची गोम्पा या अलची मठ जम्मू और कश्मीर राज्य के लेह के पश्चिम में 65 किमी की दूरी पर स्थित है।

  • इस मठ में हजारों वर्ष पुराने भित्ति चित्र व काष्‍ठ निर्मित उत्‍कृष्‍ट नक्‍काशी है।
  • यहाँ पर 6 मंदिर, बुद्ध की बैठी हुई मुद्रा में मूर्तियाँ तथा अनुपम कलाकृतियाँ हैं।
  • अलची मठ में आभूषणों से सुसज्जित बीस फीट ऊंची एक आकर्षक मूर्ति भी है।
  • इस मठ की दीवारों पर बनी हुई दस शताब्दियों से भी अधिक पुरानी कलाकृतियाँ भगवान बुद्ध, लामा तथा संगीतकारों के जीवन को दर्शाती है।

Leave a Comment